अल्मोड़ा मेडिकल कालेज में शुरू हुए सिजेरियन प्रसव

अल्मोड़ा मेडिकल कालेज में शुरू हुए सिजेरियन प्रसव

मेडिकल कालेज में आखिरकार प्रसव की सुविधा शुरू हो गई है। सोमवार को एक महिला का सफलता पूर्ण सिजेरियन प्रसव हुआ। प्रसव के बाद जच्चा और बच्चा दोनों स्वस्थ हैं। कालेज में अब नियमित प्रसव की सुविधा मिलने की उम्मीद है। जिससे गर्भवतियों और स्थानीय लोगों ने राहत की सांस ली है।अस्पताल में प्रसव की सुविधा शुरू हो गई है। कालेज के अधीन बेस अस्पताल में पूर्व में लगातार प्रसव की सुविधा संचालित होती थी। अल्मोड़ा जिले के सुदूर क्षेत्रों समेत पिथौरागढ़ और बगेश्वर जिलों से भी यहां प्रसव के लिए गर्भवतियों को लाया जाता था। लेकिन कोरोना काल में कोविड अस्पताल के रूप में स्थापित बेस में सभी सेवाएं बंद थी। जिसके चलते यहां प्रसव भी नहीं हो रहे थे। इस बीच बेस अस्पताल मेडिकल कालेज के अधीन संचालित होने लगा। बाद में कोरोना की दूसरी लहर के दौरान कोरोना संक्रमित कई गर्भवतियों का यहां प्रसव किया गया। दूसरी लहर समाप्त होने के बाद यहां सामान्य मरीजों के लिए ओपीडी, आइपीडी और अन्य सेवाएं संचालित की गई। लेकिन प्रसव की सुविधा संचालित नहीं हो रही थी। गर्भवतियों को हायर सेंटर रेफर किया जा रहा था।

इधर दिसंबर की शुरुआत में कालेज में आपरेशन से संबंधित वर्क स्टेशन पहुंचे। जिसके बाद अब कालेज में प्रसव की सेवा शुरू हो गई है। सोमवार को अस्पताल में सिजेरियन प्रसव हुआ। जटिल आपरेशन के बीच सेवा मिलने से स्वजनों ने राहत की सांस ली। डाक्टरों ने बताया कि इससे पूर्व शनिवार को भी एक सिजेरियन हुआ था। डाक्टरों की टीम में स्त्री एवं प्रसूता विभागाध्यक्ष डा. ऊषा रावत, असिस्टेंट प्रो. श्वेता, आदित्य चौहान, डा. गीता भंडारी, डा. कौशल, डा. अमित आर्य, डा. ओम प्रकाश, डा. वंदना बिष्ट आदि रहे।

अन्य खबर